योगी सरकार ने शिया “वक्फ” बोर्ड के खिलाफ लिया ये कड़ा फैसला, पहले किसी भी सरकार ने नहीं उठाया ऐसा कदम!

0
1397

विभिन्न राज्यों में करीब 4 लाख एकड़ जमीन वक्फ बोर्डों के पास है। भारतीय रेलवे और रक्षा मंत्रालय की भू-संपत्ति के बाद वक्फ बोर्ड के पास ही सर्वाधिक जमीन है। इसी तरह वक्फ बोर्ड के तहत बनी हुई कब्रगाहों के क्षेत्र निर्धारित हैं। “वक्फ” का इतिहास गरीबों के कल्याण से जुड़ा हुआ आ रहा है।

अल्लाह के नाम पर किसी व्यक्ति या संस्था द्वारा गरीबों के लिए दान की गई संपत्ति “वक्फ” मानी गई है। भारत में लगभग 800 वर्षों से “वक्फ” का प्रावधान रहा है। देश में करीब 3 लाख अचल संपत्तियाँ वक्फ संपत्ति की तरह अब भी पंजीकृत हैं। आज देश में वक्फ की 70 फीसदी प्रॉपर्टी अतिक्रमण का शिकार है. ये सब वक्फ बोर्ड मेंबरों की मेहरबानी है या फिर सरकारी महकमों की अनदेखी से है.

इन सब बातों के मद्देनजर और वक्फ बोर्ड में हुए घोटालों को देखेते हुए, उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने शिया वक्फ बोर्ड के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की है जिससे आजाम खान समेत वक्फ बोर्ड के कई सदस्यों पर इतने करोड़ों रुपये के घोटाले का आरोप है की आप भी जानकर दंग रह जायेंगे !!

अगले और आखिरी पेज पर देखिये योगी सरकार ने “वक्फ” बोर्ड के खिलाफ आखिर कौन-सा कड़ा फैसला लिया जिससे पूरे यूपी में हलचल मच गयी,और आजम भी सन!!

Loading...

LEAVE A REPLY